संकट के दौरान स्वयं की देखभाल व् इम्युनिटी सिस्टम बढ़ाने के उपाय

281
संकट के दौरान स्वयं की देखभाल व् इम्युनिटी सिस्टम बढ़ाने के उपाय
संकट के दौरान स्वयं की देखभाल व् इम्युनिटी सिस्टम बढ़ाने के उपाय

अपने इम्युनिटी सिस्टम को बढ़ाने के लिए कुछ उपाए सुझाये गए है आयुष मंत्रालय द्वारा। इन उपायों का उपयोग आप अपने दिनचार्य में कर इम्युनिटी सिस्टम को बड़ा सकते है।

  1. पूरे दिन गर्म पानी पिएं।
  2. आयुष मंत्रालय (#YOGAatHome #StayHome) द्वारा सलाह के अनुसार कम से कम 30 मिनट के लिए योगासन, प्राणायाम और ध्यान का दैनिक अभ्यास करे
  3. घर पर भोजन में मसाले जैसे हल्दी (हल्दी), जीरा (जीरा), धनिया (धनिया) और खाना पकाने में लहसून (लहसुन) की सिफारिश की जाती है।
  4. सुबह च्यवनप्राश 10gm (1tsf) लें। यदि आप मधुमेह रोगी हैं तो चीनी मुक्त च्यवनप्राश का सेवन करना चाहिए
  5. तुलसी (तुलसी), दालचीनी से बनी हर्बल चाय / काढ़ा (कढ़ा) पिएं (दालचीनी), कालीमिर्च (काली मिर्च), शुंठी (सूखी अदरक) और मुनक्का(किशमिश) – दिन में एक या दो बार।
  6. गुड़ (प्राकृतिक चीनी) और / या ताजा नींबू का रस अपने स्वाद के लिए, यदि आवश्यक हो।
  7. गोल्डन मिल्क- 150 मिली गर्म दूध में आधी चाय चम्मच हल्दी (हल्दी) पाउडर – दिन में एक या दो बार।

सरल आयुर्वेदिक प्रक्रियाएं
1. नाक का अनुप्रयोग – सुबह व् शाम दोनों समय अपने नाक के नथुने पर तिल का तेल / नारियल का तेल या घी लगाएँ।
2. ऑयल पुलिंग थेरेपी- 1 टेबल स्पून तिल या नारियल का तेल मुंह में लें। 2 से 3 मिनट के लिए मुंह में घुमाएं और इसके बाद इसे थूक दें, गर्म पानी से कुल्ला। यह दिन में एक या दो बार किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ेंः    गैस भगाये बैंगन - Home Remedies For Gastric Problem

सूखी खांसी / गले में खराश के दौरान
1. ताजा पुदीना ( (Mint) के पत्ते या अजवाईन (Caraway seeds) के साथ भाप ले ऐसे आप दिन में एक बार जरूर करे।
2. लौंग पाउडर को प्राकृतिक चीनी / शहद के साथ मिलाकर 2-3 बार ले सकते हैं खांसी या गले में जलन के मामले में दिन में एक बार जरूर।
3. ये उपाय आम तौर पर सामान्य सूखी खांसी और गले में खराश का इलाज करते हैं। हालाँकि,यदि ये लक्षण बने रहते हैं तो डॉक्टरों से परामर्श करना सबसे अच्छा है।
उपरोक्त उपायों का पालन एक हद तक संभव हो सकता है

Source आयुष मंत्रालय

कृपया ध्यान दें उपलब्ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। Read More