शक्ति मुद्रा के लाभ, करने की विधि – Shakti Mudra benefits and how to do this in Hindi

245
shakti mudra

 शक्ति मुद्रा के लाभ, करने की विधि – Shakti Mudra benefits and how to do this in Hindi

शक्ति का आह्वान करने के लिए योग और ध्यान में उपयोग किया जाने वाला एक सामान्य हाथ की  मुद्रा ही शक्ति मुद्रा है। संस्कृत में, “शक्ति” शब्द पहली ब्रह्मांडीय ऊर्जा की ओर संकेत करता है और उन गतिशील शक्तियों के लिए है जो पूरे ब्रह्मांड में यात्रा करती हैं। शरीर में ऊर्जा प्रवाह को निर्देशित और नियंत्रित करने के लिए मुद्राओं का अक्सर उपयोग किया जाता है।

यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप इसे सही तरीके से कर रहे हैं, हमेशा एक अनुभवी शिक्षक की  सलाह ले और उसकी देख रेख में मुद्राओं का अभ्यास करे ।

how to make shakti mudra

शक्ति मुद्रा कैसे करें

पदमासन या सुखासन में बैठकर अपने दोनों अंगूठे अंदर मोड़कर दोनों हाथों की  मुटि्ठयां बनाने ले तर्जनी और मध्यमा से अंगूठे को दबाये, यह शक्ति मुद्रा कहलाती है।

शक्ति मुद्रा को करने का और भी तरीके है, दोनों हाथों अंगूठे अंदर मोड़कर दोनों हाथों की  मुटि्ठयां बनाने के बाद  तर्जनी और मध्यमा को मिलाकर खड़ा कर दे।

इसे भी पढ़ेंः    मूली वाले लड्डू - Ram ladoo recipe

अपनी पीठ सीधी रखते हुए और अपने हाथों को अपने घुटनों पर या अपनी गोद में रखते हुए, आपको ध्यान केंद्रित करने में मदद करने के लिए आरामदायक ध्यान मुद्रा, जैसे पद्मासन या सुखासन में बैठ जाएं।
अपनी आँखें बंद करें और कुछ गहरी साँसें लें।
दोनों हाथों की अनामिका और छोटी उंगलियों को जोड़ लें।
अपने अंगूठे की नोक को छूते हुए शेष दो उंगलियों की तर्जनी और मध्यमा उंगलियों को हथेलियों में मोड़ें और हाथों को अलग करके एक त्रिकोण बनाएं।
आपके हाथ आपकी गोद में होने चाहिए और हथेलियाँ ऊपर की ओर होनी चाहिए।

शक्ति मुद्रा के अभ्यास सुबह शाम 15-15  करेऔर लाभ देखे।

शक्ति मुद्रा लाभ 

  • पार्किंसन रोग दूर होता है।
  • शारीरिक शक्ति का विकास होता  है।
  • शरीर की कमजोरी हटाई जा सकती है। खेलकूद करने वालो के लिए ये मुद्रा लाभदायक है
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती । शरीर ऊर्जावान बनता है।
  • चेहरा पर तेज आता है गुस्सा दूर होता है।
  • यह मुद्रा  तनाव ग्रस्त लोगों, अनिद्रा, स्लिप डिस्क और पीठ दर्द में खासतौर से उपयोगी है।
  • मानसिक विश्राम पर ध्यान केंद्रित करके नींद की समस्याओं और अनिद्रा को कम करना।
  • शारीरिक श्रम करने वालों के लिए यह मुद्रा  खासतौर से उपयोगी है।

कृपया ध्यान दें उपलब्ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। Read More