चैत्र नवरात्रि 2 अप्रैल 2022 शनिवार Chaitra Navratri 2 April Saturday in hindi

42
ma-sherawali
ma-sherawali

चैत्र नवरात्रि 2 अप्रैल 2022 शनिवार

Chaitra Navratri 2 April saturday

 Shubh muhurat navratri 2022 

नवरात्रि उत्सव के शुभ मुहूर्त

चैत्र शुक्ल प्रतिपदा इस वर्ष 2 अप्रैल 2022 को हिन्दू नव वर्ष 2079 विक्रम सम्वत  है 

इसी दिन चैत्र नवरात्रि  2 अप्रैल 2022 से आरम्भ है। चैत्र नवरात्रि हिन्दू धर्म में विशेष महत्व रखते है ,इसमें 9 दिनों तक माता दुर्गा के अलग अलग रूपों की पूजा की जाती है। चैत्र नवरात्रि चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से आरम्भ होती है जो की इस बार 2 अप्रैल 2022 से आरम्भ है और 11 अप्रैल को समाप्त है।  इस दिन नव सम्वत भी मनाया जाता है पुराण कथा के अनुसार इस दिन सृष्टि क रचना आरम्भ की गई थी । इसकी शुरुआत महाराज विक्रमादित्य ने की थी इसकी गणना  अंग्रेजी कैलेंडर सॅ 57 वर्ष आगे है अर्थात 2022 +57 =2079 .व्यवसायी लोग अपने बही  खातों की पूजा करते है , और नये खाते आज के  दिन से ही शुरू करते है।  कोई भी शुभ कार्य इसी दिन से आरम्भ करते है।

कलश स्थापना महूर्त 

सुबह 6:10  से 8 :31 बजे तक 

अभिजीत कलश स्थापना महूर्त 

12:00 बजे से 12:50 बजे तक 

इसे भी पढ़ेंः    निर्जला एकादशीः इस व्रत को रखने से 24 एकादशियों का मिलता है पुण्य

मां दुर्गा का घट-स्थापना का मुहूर्त
नवरात्रों में सबसे अहम माता की चौकी होती है. जिसे शुभ मुहूर्त देखकर लगाया जाता है. माता की चौकी लगाना के लिए भक्तों के पास 2 अप्रैल को सुबह 06 बजकर 10 मिनट से लेकर 08 बजकर 31  मिनट तक का समय है.
नवरात्र में मां के 9 रूपों की पूजा होती है.नवरात्रि में मां दुर्गा के नौ रूपों की आराधना करते हुए उनके लिए व्रत रखा जाता है. अधिकांश लोग पूरे 9 दिन तक व्रत करते हैं , जो इस प्रकार है–

2 अप्रैल 2022 : मां शैलपुत्री की पूजा
3 अप्रैल 2022 : मां ब्रह्मचारिणी की पूजा
4 अप्रैल 2022 : मां चन्द्रघंटा की पूजा
5 अप्रैल 2022 : मां कूष्मांडा की पूजा
6 अप्रैल 2022 : मां स्कंदमाता की पूजा
7 अप्रैल 2022: मां कात्यायनी की पूजा
8 अप्रैल 2022: मां कालरात्रि की पूजा
9 अप्रैल 2022: मां महागौरी की पूजा
10 अप्रैल 2022 : मां सिद्धदात्री की पूजा

11अप्रैल 2022 :नवरात्री पारण

 

 

कृपया ध्यान दें उपलब्ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। Read More