लिंगमुद्रा के लाभ Benefits of Ling Mudra

45
ling mudra
ling mudra

लिंगमुद्रा

दोनों हाथों की अँगुलियों को आपस में फंसाकर मुठ्ठी बनाएं और बाएं हाथ के अंगूठे को खड़ा रखें। बाकी सभी अंगुलियाँ आपस में बंधी हुई होनी चाहिए।इसे 15 मिनट से लेकर 45  मिनट तक किया जा सकता है। यह मुद्रा शरीर में उष्णता उत्पन्न करती है ,इसलिए पित्त प्रकृति वाले व्यक्ति इसे अधिक देर तक न करे।

 

 

लिंगमुद्रा के लाभ 

  • यह फेफड़े सबल करती है अनावश्यक चर्बी समाप्त करती  है और मोटापा दूर करती है ।
  • शरीर में गर्मी बढ़ती है।
  • यह सर्दी-जुकाम, खांसी, कफ का नाश करती है
  • साइनस,लकवा  और अस्थमा में लाभदायक है।
  • निम्न रक्तचाप के मरीजों में यह लाभकारी है।
  • मौसम परिवर्तन से होने वाले रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है।

 

इसे भी पढ़ेंः    कैसे बढ़ाएँ नाखूनों की सुंदरता - how to have beautiful nails
कृपया ध्यान दें उपलब्ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। Read More