दही है दूध से ज्यादा पोषक – Yogurt more nutritious than milk

0
1837
yogurt (curd) more nutritious than milk
yogurt (curd) more nutritious than milk

दही है दूध से ज्यादा पोषक

दही स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक है। इसमें कुछ ऐसे रासायनिक पदार्थ पाए जाते हैं जो दूध की अपेक्षा जल्दी पच जाते हैं। दूध की अपेक्षा दही में प्रोटीन, लैक्टोज, कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस आदि कई विटामिन्स होते हैं इसलिए दही को अधिक पोषक माना जाता है। जिन लोगों को दूध न भाता हो उनके लिए दही एक बेहतर विकल्प है।

एक शोध के दौरान आहार #विशेषज्ञों ने पाया कि दही को प्रतिदिन खाने से आंतों के रोग और पेट की बीमारियां नहीं होती तथा बहुत से विटामिन बनने लगते हैं। इससे जो बैक्टीरिया होते हैं, वे लेक्टोज बैक्टीरिया उत्पन्न करते हैं।

  • दही को प्रतिदिन खाने से आंतों और पेट की बीमारियां नहीं होती।
  • मोटापे पर नियंत्रण रहता है।
  • दही में अत्यधिक मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है। जिससे हड्डियां, दांत एवं नाखून मजबूत होते हैं।
  • दस्त हों तो दही के साथ ईसबगोल की भूसी तथा चावल खाने से फायदा होता है।
  • बवासीर के रोगियों को दोपहर में भोजन करने के उपरांत एक ग्लास छाछ में अजवायन डालकर पीने से लाभ होता है।
  • दही और शहद को मिलाकर छोटे बच्चों को खिलाने से दांत आसानी से निकलने लगते हैं।
  • गर्मी के मौसम में लस्सी पीने से शरीर के अंदर का ताप शांत होता है और लू नहीं लगती।
  • वजन बढाना हो तो दही में किशमिश, बादाम, छुहारा मिलाकर चबा चबाकर खाना लाभदायक होता है।
  • त्वचा का कालापन और खुजली दूर करने के लिए खट्टी दही से शरीर की मालिश करना चाहिए।
  • बालों की किसी भी प्रकार की समस्या हो तो दही की मालिश करें।
  • दही में जीरे व हींग का छौंक लगाकर खाने से जोडों के दर्द में लाभ पहुंचता है। यह स्वादिष्ट और पौष्टिक होता है।
इन्हे भी देखिए
  प्याज़ पकोड़ा कढ़ी - Onion Pakoda Kadhi Recipe In Hindi

दही का प्रयोग करते समय कृपया बरतें कुछ ये #सावधानियां भी….

  • हमेशा ताजे दही का ही सेवन किया जाए।
  • रात्रि में दही का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • मांसाहारी भोजन के साथ दही नुकसानदायक होता है।
  • मधुमेह के रोगियों को भी दही के सेवन करने से संयम रखना चाहिए।
  • दही को मिट्टी के बर्तन में जमाने से उसके गुण बढ जाते हैं।
कृपया ध्यान दें उपलब्ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। Read More