धनतेरस त्रयोदशी ( धनसमृद्धि का द‌िन) | धनतेरस पर समृद्धि प्राप्ति के उपाय

0
2035
dhanteras
dhanteras

धनतेरस त्रयोदशी (धनसमृद्धि  का द‌िन)

आज धनतेरस के खास मौके पर हमारी संस्कृति और मान्यताओं के अनुसार कुछ न कुछ खरीदने का प्रचलन है। वैसे पुरानी मान्यताओं के अनुसार इस खास दिन पर बर्तन खरीदने की प्रथा में लोगों का यकीन काफी अधिक  है।दीपावली से पहले धनतेरस पर घर में कुछ खास चीजें लाने से धन की प्राप्ति होती है। धनतेरस यानी अपने धन को 13 गुणा बनाने का द‌िन,इसके साथ ही एक कथा जुडी हुई है ।

धनतेरस की कथा की मान्यता के अनुसार माँ लक्ष्मी को विष्णु जी का श्राप था कि उन्हें 13 वर्षों तक उनको किसान के घर में रहना होगा। श्राप के दौरान किसान का घर धनसंपदा से भर गया। श्रापमुक्ति के उपरांत जब विष्णुजी लक्ष्मी को लेने आए तब किसान उन्हें रोकना चाहता था तब लक्ष्मीजी ने कहा कल त्रयोदशी है तुम साफसफाई करना, दीप जलाना और मेरा आह्वान करना। किसान ने लक्ष्मी जी के कहे अनुसार ही किया और लक्ष्मी की कृपा प्राप्त की । तब ही से लक्ष्मी पूजन कीप्रथा चल निकली।

इस दिन भगवान धनवन्तरी समुद्र से कलश लेकर प्रकट हुए थे, इसलिये इस दिन खास तौर से बर्तनों की खरीदारी की जाती है। इस दिन बर्तन, चांदी खरीदने से इनमें 13 गुणा वृ्द्धि होने की संभावना होती है।  इसके साथ ही इस दिन सूखे धनिया के बीज खरीद कर घर में रखना भी परिवार की धन संपदा में वृ्द्धि करता है।  दीपावली के दिन इन बीजों को खेतों में लागाया जाता है ये बीज व्यक्ति की उन्नति व धन वृ्द्धि के प्रतीक होते है।

इसे भी पढ़ेंः    टूटी फ्रूटी केक – Tutty Fruiti Cake Recipe

धनतेरस की विशेष बात यह है कि इस दिन चांदी या पीतल खरीदना चाहिए ,जो घर में स्वास्थ्य ,समृद्धि ,आरोग्य और सौभाग्य लाती है सोना नहीं खरीदें क्योंकि इस दिन सोना खरीदने से घर में चंचलता आ सकती है । बल्कि पुष्य नक्षत्र में खरीदे सोना की इस दिन विधिवत पूजा जा सकता है । इससे घर में लक्ष्मी का शुभ स्थायी वास होता है।

देवी लक्ष्मी जी का प्रतीक होता है झाडू। धनतेरस के दिन घर में नई झाडू लाने से घर की नकारात्मक ऊर्जा बाहर चली जाती हैं और साफ घर में लक्ष्मी जी प्रवेश करती हैं।

धनतेरस पर समृद्धि प्राप्ति के उपाय – Prosperity tips for Dhanteras

साबुत धनिया : धनतेरस के दिन साबुत धनिया खरीदें। पूरी रात लक्ष्मी जी के सामने साबुत धनिया रखा रहने दें। अगले दिन प्रातः साबुत धनिए को गमले में बो दें,जिससे हमारी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होती है।

नमक : धनतेरस पर नमक का नया पैकेट खरीदें। खाना बनाने में नया नमक ही प्रयोग करें। इससे धन की आवक में वृद्धि होगी। घर के उत्तर पूर्व कोने में थोड़ा सा नमक कटोरी अथवा छोटी डिब्बी में डालकर रख सकते हैं। इससे घर की नकारात्मकता खत्म होगी और धनागमन के साधन बनने लगेंगे।

कौड़ी : धनतेरस के दिन कौड़ी खरीद कर घर लाएं और अपार धन प्राप्ति हेतु धनतेरस की रात्रि उनका षडोषोपचार पूजन कर केसर से रंगकर कौड़ियां पीले कपड़े में बांधकर तिजोरी में रखें। आश्चर्यजनक रूप से घर में धन का आगमन होगा।

इसे भी पढ़ेंः    Famous Indian Breakfast Rava Upma recipe

कमल गट्टे : घी में कमल गट्टे मिलाकर लक्ष्मी को प्रसाद चढ़ाने से व्यक्ति राजा जैसा जीवन जीता है। इसके अतिरिक्त 108 कमल गट्टों की माला लक्ष्मी जी पर चढ़ाने से व्यक्ति को स्थिर लक्ष्मी प्राप्त होती है। धन और बरकत के लिए कमल गट्टे की माला घर में रखें।

गांठ वाली पीली हल्दी :  धनतेरस के दिन शुभ मुहूर्त देखकर बाजार से गांठ वाली पीली हल्दी अथवा काली हल्दी को घर लाएं। इस हल्दी को कोरे कपड़े पर रखकर स्थापित करें तथा षडोशपचार से पूजन करें।

धनतेरस पर झाड़ू खरीदना भी शुभ है. इस दिन झाड़ू खरीदकर लाने से दरिद्रता और नकारत्मक ऊर्जा दूर चली जाती है.

Dhanteras 2020 Date and Time 

इस बार भगवान धनवंतरी के पूजन के पर्व धनतेरस 12 व 13 नवंबर को दो दिन मनाया जाएगा। इस बार द्वादशी तिथि 12 नवंबर को शाम 6.20 बजे तक रहेगी।
13 नवंबर को धनरेसत की पूजा का शुभ मुहूर्त शाम 5.28 बजे से शुरू होकर 5 बजकर 59 मिनट तक रहेगा।
12 नवंबर की रात्रि 9:30 बजे के बाद से धनतेरस को लेकर खरीदारी की जा सकती है।

कृपया ध्यान दें उपलब्ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। Read More