रात भर अँधेरे कमरे में चलाया मोबाइल, सुबह उठे तो दिखना बंद !

6491
Smartphone users temporarily blinded after looking at screen in bed
Smartphone users temporarily blinded after looking at screen in bed

टेम्परेरी ब्लाइंडनेस पैदा कर मोबाइल, रेटिना से लेकर लाइंस तक को कर रहा इफेक्ट लाइट गुल कर मोबाइल चलाना अब खतरे से खाली नहीं 

अभी तक मोबाइल और उसकी बैटरी से निकलने वाली रेड़ीयेशन को लेकर ही चिंता व्यक्त की जा रही है , लेकिन अब बात इससे आगे निकल चुकी है।  मोबाइल के एडवांस लेवल पर उपयोग होने से ज्यादा खतरा उत्पन्न हो गया है। ताजा शोधो के अनुसार अब अंधेरे कमरे मे यदि कोई मोबाइल कई घंटो तक चलता है तो सुबह उठकर उसको दिखना भी बंद हो सकता है। ऐसा हुआ भी है  और इसके लक्षणों वाले पेशेंट भी सामने आने लगे है। इस तरह की समस्या को टेम्परेरी ब्लाइंडनेस कहा जाता है।

source (newspaper)

इसे भी पढ़ेंः    निर्जला एकादशीः इस व्रत को रखने से 24 एकादशियों का मिलता है पुण्य
कृपया ध्यान दें उपलब्ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। Read More