शहद के लाभ Benefits  of Honey in hindi

110
honey
honey

शहद के लाभ
Benefits  of Honey 

मधुमक्खियों द्वारा फूलों के रस को इक्कट्ठा कर  शहद का निर्माण किया जाता है। यह बहुत ही सुगन्धित ,चिपचिपा, पारदर्शी , मीठा और पानी में घुलने वाला होता है।  यह कई प्रकार  का होता है ,पर सबकी अपनी गंध ,स्वाद और रंग होती है। हिमालय में मिलने वाला  सबसे उत्तम माना जाता है।

इसकी 2 विशेषता है

1 यह पेट में पहुँचते ही पच जाता है और खून में मिलकर तुरंत शक्ति (बल संचय) देता है

2 यह गर्म चीज़ के साथ गर्म और ठंडी चीज के साथ लिए जाने पर ठंडा असर दिखाता है।अर्थात इसको जिसके साथ लिया जाय ,शहद उसी का प्रभाव दिखता है

थकावट

शहद से थकावट दूर होती है यह शरीर को शक्ति और स्फूर्ति देकर स्नायुतंत्र को बलवान बनाताहै। रात को यदि आप थकान अनुभव करे ,1 बड़ा चम्मच शहदगुनगुने पानी में नींबू का रस निचोड़कर ले। सारी  थकान दूर हो जायगी और आप फ्रेश महसूस करेंगे।

इसे भी पढ़ेंः    वजन घटाने के लिए नींबू के साथ कॉफी

खाँसी

एक चम्मच शहद अदरक के रस में मिलाकर लेने से खाँसी में आराम मिलता है।

कब्ज़

शहद एक प्राकर्तिक हल्का दस्तावर ,सुबह व् रात को सोने से पहले 50 ग्राम  शहद ताज़ा पानी में या दूध में मिलाकर पिए ,आराम मिलेगा।

अनिंद्रा 

यदि थकावट या चिंता के कारण नींद न आये ,तो नींबू के रस में एक चम्मच शहद मिलकर पीने  से नींद आ जाती है।

सौंदर्यवर्धक 

शहद ,नींबू ,बेसन और तिल के उबटन के प्रयोग से चेहरे का निखार बढ़ता है।

आवाज़ बैठ जाना 

यदि आवाज़ बैठ जाये ,एक कप गम पानी में एक चम्मच शहद डालकर गरारे करने से आवाज़ खुल जाती है।

एड़ी फटना ,तलवों का फटना 

एड़ी फटना ,तलवों का फटना,नाखून उत्तर जाना , बारिश के दिनों में खुजली ,फुंसी होना  3 -4 बार शहद लगाने चाहिए।

जोड़ों का दर्द 

गठिया या जोड़ों के दर्द में लम्बे समय तक शहद का सेवन करना चाहिए। इससे लाभ मिलता है।

पेट में कीड़े

जिन बच्चों के पेट में कीड़े हो, सुबह-शाम शहद लेने से लाभ होता है। 2 भाग दही में 1 भाग शहद मिला कर चाटने से कीड़े मर कर मल के साथ बाहर आ जाते है।

दाँत निकलना

जिन बच्चों के दाँत निकलने में कठिनाई हो,उनके मसूड़ों पर शहद मलने से दाँत आसानी से निकल आते है

इसे भी पढ़ेंः    सेंधा नमक गुणों का भंडार - Health benefit of sendha namak / Rock Salt

मोटापा कम/मोटे होने 

मोटापा कमके लिए सुबह खाली पेट शहद गर्म पानी में मिलाकर पिए।

और मोटे होने के लिए शहद रोज़ दूध में मिला कर पिए।

हृदय की कमज़ोरी

एक चम्म्च शहद में 10 कैलोरी होती है ,हृदय की दुर्बलता ,दिल बैठना सर्दी में हृदय की धड़कन बाद  बढ़ जाये ,तो गर्म पानी में  एक चम्मच शहद के सेवन से नवीन  है।

हड्डी टूट जाना

हड्डी टूट जाने पर रोज़ शहद के सेवन से हड्डी जुड़ने में सहायता मिलती है।

खून की  कमी 

सुबह -शाम  भोजन के बाद नींबू के रस में शहद  मिलकर पिए। शहद में मौजूद लौह तत्व  खून की कमी को दूर करते है।

कीटाणुनाशक 

शहद में मौजूद पोटेशियम कीटाणुओं का नाश करता है ,इसलिए कीटाणुओं से होने वाले रोगो जैसे निमोनिया ,टीबी  ,ब्रोन्काइटिस ,टाइफायड  आदि में इसका सेवन करना लाभकारी होता है।

 

कृपया ध्यान दें उपलब्ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। Read More