बदन के दर्द – कमर का दर्द

673
बदन के दर्द - कमर का दर्द
बदन के दर्द - कमर का दर्द

10 ग्राम कपूर
200 ग्राम सरसों का तेल
दोनों को शीशी में भरकर मजबूत ठक्कन लगा दें तथा शीशी धूप में रख दें।
जब दोनों वस्तुएँ मिलकर एक रस होकर घुल जाए तब इस तेल की मालिश से नसों का दर्द, पीठ और कमर का दर्द और, माँसपेशियों के दर्द शीघ्र ही ठीक हो जाते हैं।

इसे भी पढ़ेंः    ज्ञानमुद्रा के लाभ Benefits of Gyaan Mudra in Hindi
कृपया ध्यान दें उपलब्ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। Read More