शनि सवारे बिगड़े काम

1050
शनि सवारे बिगड़े काम
शनि सवारे बिगड़े काम

शनि सवारे बिगड़े काम

अब अगर आपके कुछ काम नहीं बन रहे हैं या आपकी तक़दीर आपका साथ नहीं दे रही है, शनिदेव के कुप्रभाव से व्यक्ति को कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हो,  तो आप शनिवार को ये टोटके जरूर आजमायें, इससे शनिदेव की कृपा बनती है उन्हें हर क्षेत्र में सफलता मिलती है।

  • शनिवार की शाम को जरूर आजमाये ये उपाय, अगर आप काले तिल, आटा, शक्कर लेकर इन तीनों चीजों को मिला कर चीटियों खिलाते हैं और मछलियों को दाना डालते हैं तो इससे आपका भाग्य खुल जाता है। आपके ऊपर अगर किसी का कर्ज है या आपकी नौकरी में उन्नति नहीं हो रही है तो इस उपाय से बहुत लाभ मिलेगा।
  • काले घोड़े को 1-1/4 किलो काले चने शुक्रवार को खिलाओ तथा शनिवार को उसके पिछले दायें पैर की नाल लेकर शनिवार को ही अपने घर के प्रवेश द्वार पर U इस आकार में लगाएं। और काले घोड़े की नाल या नाव की कील से अंगूठी बनाकर अपनी मध्यमा उंगली में शनिवार के दिन सूर्यास्त के समय धारण करें।
  • बच्चों की पढ़ाई में अधिक अंक पाने के लिए किसी अंधे बच्चे या लड़की को अपना पुत्र या बेटी मानते हुए पुस्तकों का दान करो या वस्त्र तथा फीस देकर मदद करें। बच्चो की स्मृति तेज करने के लिये बच्चों को प्रात: एक आंवले का मुब्बा रोज खाने को दें, ऊपर से दूध पीये इससे क्रोध कम होगा व पढ़ाई में ध्यान बढ़ेगा।
  • शनिवार की शाम को आप हनुमान की आराधना जरूर करें। इस दिन जो व्यक्ति हनुमानचालीसा का पाठ करता है और खासकर सुन्दरकाण्ड का पाठ करता है तो उसके भाग्य खुल जाते हैं।
  • ऊपरी प्रेत बाधा दूर करने के लिये बाजरे का दलिया 1-1/4 किलो लेकर बनाएं। पाव भर गुड़ मिलाकर मिट्टी की हांडी में रखें। सिर से पैर तक सात बार उतार कर चौराहे पर सायं को रख दें मुड़कर न देखें न बात करें। वापिस घर आ जाओ। (तीन शनिवार करो)
  • शनिदोष से मुक्ति हेतु शनिदेव के इन दस नामों का जाप करें। इसके साथ ही व्यक्ति को कार्यों में सफलता भी मिलती है। शनिदेव के नामों का कम से कम 108 बार जप करें। नाम इस प्रकार हैं- कोणस्थ, पिंगल, बभ्रु, कृष्ण, रौद्रान्तक, यम, सौरि, शनैश्चर, मंद, पिप्पलाश्रय ।
  • शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए दान के बहुत मानता है, दान करने से पुण्य की प्राप्ति होती है। इसलिए सामर्थ्य के अनुसार काले तिल, काला कपड़ा, कंबल, लोहे के बर्तन, उदड़ की दाल का दान करें।
  • आप शनिवार को शाम को अपनी हैसियत के अनुसार गरीबों को भोजन जरूर करायें, अच्छा होगा कि यह भोजन अगर तेल का बना हुआ होगा, आप चाहे एक गरीब व्यक्ति को खिलायें और अगर आपकी हैसियत है तो आप 10 लोगों को भोजन जरूर करायें।
  • बंदरों को गुड़ व चना खिलाने से हनुमान जी प्रसन्न होते हैं। प्रत्येक शनिवार हनुमान चालीसा का पाठ करें। हनुमान जी का पूजन करने से व्यक्ति को शनि दोषों का सामना नहीं करना पड़ता।
  • शनि की साढे-साती दूर करने हेतु मोरपंख का चंदोबा रवि-पुष्य नक्षत्र में काटकर अपनी जेब में रखने से मान-सम्मान में वृद्धि व दरिद्रता दूर होती है तथा शनि का साड़े-साती का प्रभाव दूर होता है।  या  शनिदेव की पूजा कर उन्हें नीले पुष्प अर्पित करें। इसके साथ ही शनि मंत्र ऊँ शं शनैश्चराय नमः का रुद्राक्ष की माला में जप करें। मंत्र की जप संख्या 108 होनी चाहिए। ऐसा हर शनिवार करने से साढ़ेसाती अौर ढय्या से मुक्ति मिलती है।
इसे भी पढ़ेंः    नाभि पर तेल लगाने के आश्चर्यजनक फायदे - Benefits of some drops of oil in navel

तो यह छोटे और आसान से शनिवार के टोटके आप अगर शनिवार को करते हैं तो कुछ ही हफ़्तों में आपके बिगड़े काम बनने लगेंगे और आपके सभी तरह के दुःख खत्म होने लगेंगे।

source (google.com)

कृपया ध्यान दें उपलब्ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। Read More