गुर्दे की पथरी का इलाज करें इन घरेलू तरीकों से

512
गुर्दे की पथरी का इलाज करें इन घरेलू तरीकों से
गुर्दे की पथरी का इलाज करें इन घरेलू तरीकों से

करेले में मैग्नीशियम और फॉस्फोरस नामक तत्व पाया जाता है , जो पथरी को बनने से रोकता है, अत: करेला पथरी के उपचार के लिए बहुत ही अच्छा है।

केले में विटामिन बी की भरपूर मात्रा होती है ये शरीर में पथरी बनने से रोकने और बने हुए पथरी को छोटे-छोटे हिस्सों में तोड़ने में सहायक होता है।

अंगूर का सेवन करने से पथरी प्राकृतिक तरीके से मूत्र मार्ग से बाहर निकल जाती है।

 गाजर में पायरोफॉस्फेट और पादप अम्ल पाए जाते हैं जो पथरी बनने की प्रक्रिया को रोकते हैं।

नींबू भी गुर्दे में पथरी को रोकने में काफी फायदेमंद साबित होता है। निम्बू के रस में लगभग बराबर मात्रा में जैतून का तेल मिला लेना चाहिए। यह मिश्रण एक चमच्च से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

इसे भी पढ़ेंः    मसाले हमारे जीवन के लिए महत्वपूर्ण क्यों हैं?
कृपया ध्यान दें उपलब्ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। Read More